Advertisement

समाज ने स्वयं को डिजिटल इण्डिया में खुद को इस कदर ढाल लिया है की अपनी और अपने बच्चे की सुरक्षा पर भी ध्यान नहीं देते है. आज का दोर प्रतिस्पर्धा का दोर है जहा पर 10 साल के बच्चे को भी माता पिता स्मार्ट फोन दिला देते है. उनका यह मानना होता है की फोन से हम अपने बच्चे के सम्पर्क में रहेंगे. और साथ ही बच्चे टेक्नोलॉजी से परिचित होंगे लेकिन वह यह गलत सोचते है क्यों की वह यह नहीं जानते है की उनका बच्चा अपने स्मार्टफोन का किस तरह से इस्तेमाल कर रहा है.

कई व्यक्तियों ने इंटरनेट पर एडल्ट साईड्स और एप बनाये है जिनका उपयोग अधितर बच्चे या फिर टीनेजर्स करते है जो उनके भविष्य के खतरा साबित हो सकता है. आज हम आपको इस लेख के माध्यम से कुछ एसे एप के बारे में बताने जा रहे है जिनसे आपके बच्चो को दुरी बनाये रखना चाहिए.

1. टिंडर (Tinder)

इस एप में व्यक्ति अपने लिए डेटिंग के लिये पार्टनर का सिलेक्शन करते है. इस एप की सहायता से अपने लिए डेटिंग पार्टनर को चुनना काफी आसान हो जाता है. अधिकतर बच्चे इसका इस्तेमाल करते है जिससे कई बार वह बड़ी परेशानियों में भी पड़ जाते है.

2. स्नैपचैट (Snapchat)

इस एप की सहायता से यूजर बड़ी आसानी से अपनी फ्रेंड लिस्ट में शामिल किसी भी व्यक्ति को अश्लीलता (गंदे वीडियो) या फोटो भेजते है. कहा जाता है की यह एप अश्लीलता भरे वीडियो या फोटो भेजने के लिए काफी सिक्योर मानी जाती है.इस एप से कोई भी व्यक्ति आपके पर्सनल वीडियो या फोटोज को चुरा कर उसका गलत इस्तेमाल कर सकता है.

Advertisement

3.ब्लेंडर (Blendr)

इस एप की सहायता से नए दोस्त बनाने के लिए GPS का इस्तेमाल किया जाता है. साथ ही इस एप में रजिस्ट्रेशन के लिए किसी भी तरह की कोई समस्या नहीं होती है. इस एप पर व्यक्ति GPS की सहायता से कई तरह के वीडियो अपने पार्टनर को भेज सकते है.इस तरह यदि किसी बच्चे की प्रोफाइल गलत व्यक्तिओ के हाथो लग जाये तो वह उसका गलत इस्तेमाल कर सकता है.

Advertisement