FASTag क्या है कैसे बनवाएँ, FASTag के फायदे

जब भी आप एक शहर से दूसरे शहर किसी वाहन से जाते हैं तो रास्ते में आपसे टोल टैक्स लिया जाता है. Toll Tax पर आपने अक्सर देखा होगा की कभी-कभी लंबी लाइन लगी होती है. इसकी वजह है की वहाँ पर उन्हें टोल टैक्स देने और उस टोल टैक्स का Payment करने में काफी समय लग जाता है. जिसके कारण लाइन लग जाती है. खैर सरकार ने अब इस मुसीबत से निपटने के लिए एक विकल्प ढूंढा है और वो है FASTag. FASTag को सरकार ने दिसंबर 2019 से अनिवार्य कर दिया है अगर किसी के पास ये नहीं है तो उसे डबल टोल टैक्स देना होगा.

FASTag क्या है? What are FASTags?

FASTag एक तरह का टैग है जिसे आपकी गाड़ियों पर लगाया जाएगा. इसके माध्यम से आप जब भी किसी टोल प्लाज़ा पर पहुंचेंगे तो अपने आप आपके टोल टैक्स की रसीद कट जाएगी और आपके Mobile पर इसका Message आ जाएगा. आपको टोल टैक्स की रसीद कटवाने के लिए ज्यादा रुकना नहीं पड़ेगा. ये एक तरीके का Electronic Toll Collection System है. इसकी शुरुवात भारत में 2014 में हुई थी लेकिन इसे पूरी तरह लागू नहीं किया गया था. इसके जरिये आप बिना रुके अपना टोल टैक्स दे सकते हैं.

fastag-kya-hai-hindi

FASTag कैसे काम करता है?

FASTag को आपके वाहन की Wind Screen पर लगाया जाता है. इसमें Radio Frequency Identification सेट होता है. जब आपकी गाड़ी टोल प्लाज़ा पर आती है तो Toll Plaza पर लगा Sensor आपके Vehicle के Windscreen पर लगे FASTag के संपर्क में आता है. उसके संपर्क में आते ही आपके Account से उस टोल प्लाज़ा को लगने वाला शुल्क काट लिया जाता है. और आपके मोबाइल पर इसका मैसेज आ जाता है. इस तरह आप किसी भी टोल प्लाज़ा पर बिना रुके अपना Toll Tax दे सकते हैं और आसानी से वहाँ से जा सकते हैं.

FASTag से कटने वाला पैसा सीधे आपके अकाउंट से नहीं कटता है. जब आप FASTag बनवाते हैं तो आपको एक Prepaid Account बना कर दिया जाता है जो एक तरह का वालेट होता है. इस वालेट को आप अपने अकाउंट, Credit Card या फिर Debit Card के जरिये रिचार्ज कर सकते हैं. इस Wallet में से ही हर बार आपके पैसे कटते रहते हैं. अगर आप कहीं अपने वाहन से जा रहे हैं तो पहले इस बात की पुष्टि जरूर करें करें की आपके FASTag wallet में उतना बेलेन्स हैं या नहीं जितना आपको जरूरत होगी.

FASTag के फायदे

FASTag के पूरी तरह लागू होने से कई सारे फायदे आपको और देश को होंगे.

– FASTag की मदद से टोल प्लाज़ा पर लगने वाली लंबी-लंबी लाइन से छुटकारा मिलेगा. जिससे आपके समय और ईधन की बचत होगी.

– FASTag उपयोग करने वालों को समय-समय पर CashBack भी दिया जाता रहा है.

– अगर किसी का ट्रांसपोर्ट का Business है तो FASTag की वजह से उसके बिजनेस को और ज्यादा रफ्तार मिलेगी.

FASTag कैसे बनवाएँ?

FASTag बनवाने एक लिए आपको कुछ चुनिन्दा बैंक जो FASTag बनाती हैं वहाँ जाना होगा और FASTag के लिए आवेदन करना होगा. इसके अल्वा आप किसी भी PoS के अंदर आने वाले टोल प्लाज़ा पर जाकर या फिर ट्रैफिक ऑफिस जाकर FASTag बनवा सकते हैं. जब आप इसे बनवाएंगे तो आपको एक FASTag अकाउंट बनाकर दिया जाएगा और आपकी गाड़ी पर एक FASTag स्टिकर चिपकाया जाएगा. ये स्टिकर ही आपका अपने आप टोल टैक्स भरने में मदद करेगा.

FASTag बनवाने के लिए जरूरी डॉकयुमेंट What are the documents required for FASTag?

FASTag बनवाने के लिए या FASTag अकाउंट खुलवाने के लिए आपको कुछ जरूरी Document देना होते हैं जिन्हें आप FASTag बनवाते वक़्त अपने साथ जरूर ले जाएँ.

– वाहन का Registration Card

– वाहन मालिक की Passport Size Photo

– वाहन मालिक के पते का (Certificates) प्रमाण पत्र 

– वाहन मालिक का परिचय पत्र (Identity Card) या आधार कार्ड (UIDAI Card Aadhar Card)

इन सभी दस्तावेजों के साथ आप FASTag के लिए आवेदन कर सकते हैं. FASTag बनवाना आपके लिए ही फायदेमंद है क्योंकि ये आपको टोल टैक्स पर लंबी लाइन से बचाता है. इसके अलावा उस दौरान जो ईधन खर्च होता है उसकी भी बचत होती है.

इन सभी के अलावा यदि आप FASTag नहीं बनवाते हैं तो आपसे डबल टोल टैक्स लिया जाएगा. इसलिए जल्दी से जल्दी आप FASTag बनवाएँ ताकि आपको किसी तरह की दिक्कत न हो और आप आसानी से एक शहर से दूसरे शहर जा सके.

GST Return कैसे भरें, जीएसटी फॉर्म की जानकारी, GST Composition Scheme

National Sports Talent Search Scheme (NSTSS) क्या है इसके नियम तथा लाभ?

Gold Monetisation Scheme क्या है इसका क्या फायदा है?

PMSMA प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व योजना क्या है, इसके क्या फायदे हैं?

Sukanya Samriddhi Yojana सुकन्या समृद्धि योजना के नियम, फायदे और पात्रता

error: Content is protected !!