11 अंकों का होगा मोबाइल नंबर जानिए क्यों होगा बदलाव

मोबाइल तो हम सभी के पास होता है. अब वो चाहे 2G हो या 4G हो. उस मोबाइल में सिम का उपयोग भी हम सभी करते हैं और एक दूसरे को कॉल करने के लिए मोबाइल नंबर का उपयोग करते हैं. आमतौर पर अभी हम जो मोबाइल नंबर भारत में उपयोग कर रहे हैं वो 10 अंकों का होता है. लेकिन अब इसमें बड़ा बदलाव होने वाला है. आगे चलकर भविष्य में आपको 11 अंकों के मोबाइल नंबर देखने को मिलेंगे. इससे आपके आने वाले सभी मोबाइल नंबर बदल जाएंगे और आपको 10 अंकों की जगह 11 अंक का मोबाइल नंबर डायल करके कॉल करना पड़ेगा.

11 अंकों का मोबाइल नंबर

भारत की टेलिकॉम रेगुलेटरी (TRAI) मोबाइल नंबर को 11 अंकों का करने का विचार कर रही है. जानकारी के मुताबिक इसके लिए जल्द ही कदम उठाए जाएंगे. आने वाले समय में मोबाइल नंबर के अलावा लैंडलाइन नंबर में भी बदलाव देखने को मिलेगा. TRAI ने इसको लेकर एक डिस्कशन पत्र भी जारी किया है जिसका नाम ‘एकीकृत अंक योजना का विकास’ है. सरकार ऐसा कदम बढ़ती आबादी के साथ टेलिकॉम कनैक्शन की मांग को निपटने की जरूरत को देखते हुए करना चाहती है.

नए कनैक्शन के कारण होगा बदलाव

मोबाइल नंबर को 11 अंकों का करने के पीछे की वजह ये है की आजकल तेजी से टेलीकॉम कनैक्शन की मांग बढ़ती जा रही है. इसे देखते हुए सरकार ने 9 नंबर से डिजिट शुरू की थी जो आज 6 नंबर पहुच चुकी है. TRAI इस पर अब काम करना चाहती है ताकि भविष्य में मोबाइल नंबर की कमी न हो. TRAI के मुताबिक साल 2050 तक 260 करोड़ नए कनैक्शन की जरूरत पड़ेगी.

पहले भी हो चुके हैं बदलाव

भारत में इससे पहले भी मोबाइल नंबर और लैंडलाइन के नंबर में बदलाव कर चुकी है. इससे पहले साल 1993 में और 2003 में बदलाव हुआ था. उस समय के नंबरिंग प्लान के अनुसार 75 करोड़ नए फोन कनैक्शन बनाए गए थे जिसमें से 45 करोड़ सेल्यूलर फोन और 30 करोड़ बेसिक या लैंडलाइन फोन नंबर थे.

नए कनैक्शन किए जाएंगे क्रिएट

वर्तमान समय में TRAI का मानना है की मोबाइल कनैक्शन की बढ़ती संख्या के कारण जल्द ही मोबाइल नंबर में कमी आ सकती है. इसमें कमी आने से पहले इस विषय पर सोचना होगा की इससे कैसे निपटा जाए. इसके तहत अगर 11 अंकों से मोबाइल नंबर बनाए जाएंगे तो करोड़ों नए कनैक्शन क्रिएट किए जा सकेंगे.

ट्राई फिलहाल सभी तरह के टेलीकॉम कनैक्शन के नंबर को बदलने पर काम कर रही है.

– मोबाइल नंबर की डिजिट को बढ़ाया जाएगा.

– फ़िक्स्ड लैंडलाइन के डिजिट को भी बदला जाएगा.

– जो लोग सिर्फ डोंगल का इस्तेमाल करते हैं उनके लिए भी नंबर में बदलाव लाया जाएगा.

– इन्टरनेट ऑफ थिंग्स के लिए भी अंकों की श्रंखला में बदलाव हो सकता है.

जल्द ही आपके सामने से वो दौर जा सकता है जब 10 अंकों का मोबाइल नंबर होता था. 10 अंकों का मोबाइल नंबर फिर एक इतिहास बनकर रह जाएगा. इससे पहले भी हम कई बदलाव मोबाइल नंबर में देख चुके हैं जैसे मोबाइल नंबर की शुरू होने वाली डिजिट पहले 9 से शुरू होती थी और अब 6 से होती है.

Google Home Mini Smart Speaker की सस्ती Deal घर के काम के लिए है Best Product

Jio Phone 699 रुपये में दिवाली Discounted Offer 2019

Single Use Plastic क्या है प्लास्टिक पर बने चिन्ह का क्या मतलब होता है?

Flipkart Big Billion Day Sale और Amazon Great Indian Festival की खास Deals

Hide Your Mobile Number : प्राइवेट नंबर कैसे बनाते हैं, प्राइवेट नंबर से कॉल कैसे करते हैं?

error: Content is protected !!