क्या (Free WiFi Network) सुरक्षित है फ्री वाईफाई का उपयोग कैसे करें?

आज के जमाने में जहां भी फ्री की चीज मिलती है वहाँ पर भीड़ लग जाती है. अब वो चाहे फ्री का खाना हो या फिर फ्री का वाईफाई. वैसे खाने में कोई दिक्कत नहीं है लेकिन फ्री वाईफाई आपको कई सारी दिक्कत दे सकता है. आप कई जगह गए होंगे जहां पर आपको फ्री वाईफाई मिल जाता है जैसे रेल्वे स्टेशन, बस स्टेशन, मॉल आदि में. लेकिन क्या फ्री वाईफाई आपके लिए सुरक्षित है? ये सवाल सभी के दिमाग में घूमता है.

भारत में फ्री वाईफाई Free wifi in india

भारत में फ्री वाईफाई का नाम सुनते ही हमे सीधे याद आती है रेल्वे स्टेशन की. रेल्वे स्टेशन ही वो जगह है जहां पर आपको फ्री वाईफाई मिल जाता है. भारत में फ्री वाईफाई की शुरुवात साल 2016 में की गई थी. उस समय भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गूगल के headquarter में CEO सुंदर पिचाई से मिले थे. तब गूगल ने घोषणा की थी की वो high speed wifi इंडिया के रेल्वे स्टेशन पर लगाएंगे. गूगल ने ये काम भारत में Railtel corporation के साथ लॉंच किया था.

रेल्वे स्टेशन पर फ्री वाईफाई कैसे कनैक्ट करें?

रेल्वे स्टेशन पर Free WiFi Connect करने के लिए आपको सबसे पहले तो ये देखना होगा की जिस स्टेशन पर आप है वहाँ पर फ्री वाईफाई है की नहीं. इसे आप अपनी डिवाइस के वाईफाई में जाकर देख सकते हैं या फिर स्टेशन पर लगे बोर्ड से भी पहचान सकते हैं. इसके बाद आपको फ्री वाईफाई कनैक्ट करने के लिए निम्न तरीका अपनाना है.

– सबसे पहले वाईफाई सेटिंग में जाएँ.

– वाईफाई नेटवर्क में Railware नेटवर्क को सिलैक्ट करें और उसे कनैक्ट करें.

– अब अपना Browser खोलें.

– Browser में Railwire.com website को खोलें. (कई बार ये अपने आप खुल जाती है वाईफाई कनैक्ट करते ही.)

– इसके बाद ये आपसे आपका मोबाइल नंबर मांगेगी. आपको मोबाइल नंबर यहाँ दर्ज करना है.

– आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा जिसे आपको वेबसाइट पर दर्ज करने के लिए कहा जाएगा.

– कोड डालने के बाद आपका नंबर वेरिफ़ाई हो जाएगा और आपका फ्री वाईफाई इंटरनेट कनैक्ट हो जाएगा.

रेल्वे स्टेशन पर फ्री वाईफाई क्यों दिया जाता है?

कई लोग सोचते होंगे की रेल्वे स्टेशन पर फ्री वाईफाई क्यों दिया जाता है. कई लोग इस फ्री वाईफाई से गलत काम या गलत कंटैंट भी देखते हैं. लेकिन आपको बता दें की सरकार का फ्री वाईफाई देने के पीछे मकसद आपका गलत कंटैंट देखना नहीं बल्कि कुछ और है.

दरअसल पूरा इंडिया डिजिटल हो रहा है. ऐसे में सरकार रेल्वे स्टेशन को भी डिजिटल करना चाहती है. रेल्वे स्टेशन पर फ्री वाईफाई देने का मकसद ये है की आप वहाँ बैठे-बैठे ट्रेन की जानकारी को अपने फोन में निकाल सकें इसके अलावा आप वहाँ पर ऑनलाइन पेमेंट करना चाहते हैं तो कर सकें. और थोड़ा बहुत बैठे-बैठे टाइमपास कर सकें. इसका ये मतलब बिलकुल भी नहीं की आप कुछ गलत चीजें देखें.

क्या फ्री वाईफाई सुरक्षित है?

फ्री सुरक्षित है या नहीं ये इस बात पर निर्भर करता है की फ्री वाईफाई दे कौन रहा है. अब मान लीजिये की आपको कहीं मार्केट में या किसी बिल्डिंग में बैठे-बैठे फ्री वाईफाई मिल गया. आपने या आपके फोन ने उसे कनैक्ट कर लिया और आप उस पर अपना जरूरी काम करने लगे तो हो सकता है की आपकी डिटेल्स चोरी हो जाए, या हो सकता है की वो फ्री वाईफाई किसी हैकर का बिछाया हुआ जाल हो. इसलिए फ्री वाईफाई ज्यादा सेफ नहीं है आपके लिए.

इसका ये मतलब बिलकुल भी नहीं है की आप फ्री वाईफाई का उपयोग नहीं कर सकते. आप फ्री वाईफाई का उपयोग कर सकते हैं लेकिन उसी फ्री वाईफाई का उपयोग करें जिसे आप जानते हो. किसी भी जगह बैठ गए और आपको पता ही नहीं की ये वाईफाई किसका है और आप उसका उपयोग कर रहे हैं तो फिर ये आप ही के लिए सेफ नहीं होगा.

फ्री वाईफाई उपयोग करने के नुकसान

फ्री वाईफाई उपयोग करने से आपको लगता है की आपको फायदा होता है. आप अपने मोबाइल का कुछ डाटा बचा लेते हो लेकिन इससे बड़ा नुकसान आप फ्री वाईफाई को कनैक्ट करके कर लेते हैं. फ्री वाईफाई कनैक्ट करने से आपके मोबाइल में रखी हुई डिटेल्स चोरी हो सकती है. इनमें आपके कांटैक्ट डीटेल, बैंकिंग डीटेल, पर्सनल डीटेल आदि हो सकती है. इसलिए फ्री वाईफाई का उपयोग करते समय ध्यान रखें की आप जिन्हें जानते हैं उन्हीं का फ्री वाईफाई उपयोग करें. बिना जान-पहचान के फ्री वाईफाई का उपयोग करना आपके लिए खतरनाक हो सकता है.

फ्री वाईफाई कनैक्ट करने से पहले ध्यान रखें

फ्री वाईफाई कनैक्ट करने से पहले आपको कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए जो आपके लिए फ़ायदेमंद हो सकता है.

– सबसे पहली बात तो आपको या ध्यान रखनी है की आप जिस फ्री वाईफाई का उपयोग कर रहे हैं या जिसका उपयोग कर रहे हैं आप उसे जानते हो.

– आप अपने मोबाइल या फिर कम्प्यूटर/लैपटॉप में फ्री वाईफाई का उपयोग कर रहे हैं तो सेटिंग में जाकर किसी भी तरह की शेयरिंग को ऑफ कर दें.

– अगर आप फ्री वाईफाई का उपयोग कर रहे हैं तो आप वीपीएन यानि वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क का उपयोग कर सकते हैं. ये आपकी लोकेशन को बदल देता है और हैकर के लिए परेशानी पैदा कर देता है. VPN का प्रयोग करने के लिए आप गूगल प्ले स्टोर पर से कोई भी VPN app install कर सकते हैं.

– फ्री वाईफाई का इस्तेमाल करते वक़्त हमारे मोबाइल में बहुत सारी चीजें अपने आप अपडेट होने लगती है. जिसमें apps और OS होते हैं. लेकिन आपको इन्हें ऐसे कनेक्शन पर ही अपडेट करना चाहिए जिनके बारे में आपको पता हो और वो सुरक्षित हो.

– फ्री वाईफाई का उपयोग करने के बाद हम कुछ ऐसी चीजों का उपयोग भी कर लेते हैं जो काफी पर्सनल होती है जैसे बैंक के ऐप. लेकिन हमे इनका उपयोग फ्री वाईफाई एक्सैस करके नहीं करना चाहिए. क्योंकि ऐसे में इनके यूजरनेम और पासवर्ड चोरी होने का खतरा रहता है.

फ्री वाईफाई काफी अच्छी चीज है और ये जरूरी जगह जैसे बस स्टैंड, रेल्वे स्टेशन, एयरपोर्ट पर होना भी चाहिए. लेकिन फ्री वाईफाई का इस्तेमाल हमे सोच समझकर ही करना चाहिए. क्योंकि इसमें हमारा नुकसान हो सकता है. थोड़ी सी देर के लिए कुछ एमबी बचाने के लिए आप अपना बड़ा नुकसान कर सकते हैं.

NFC क्या है NFC के उपयोग, फायदे और नुकसान

Modem Kya होता है यह Kaise काम करता है

Repeater क्या है यह कैसे काम करता है

Wi-Fi पर INTERNET की Speed इन आसान से तरीकों से बढ़ा सकते हैं आप

error: Content is protected !!