Web Designing क्या है कोर्स और करियर की जानकारी

12वीं के बाद स्टूडेंट अपने करियर को लेकर काफी ज्यादा चिंतित होते हैं. वजह है नौकरी का न मिल पाना. दरअसल नौकरी न मिल पाने का भी एक कारण होता है और वो ये होता है की हमने जो कोर्स किया है उसमें हमारे इन्टरेस्ट का न होना. अब आज के जमाने में अधिकतर लोगों का इन्टरेस्ट सिर्फ मोबाइल और Internet रह गया है तो आप उसमें भी अपना करियर बना सकते हैं. इन दोनों से जुड़ा एक करियर है ‘वेब डिज़ाइनिंग’. अगर आपको थोड़ा बहुत भी इन्टरनेट, Smartphone और वेबसाइट में इन्टरेस्ट है तो आपको इस कोर्स को करने में मजा आयेगा और आप आसानी से इस कोर्स को करने के बाद नौकरी हासिल कर पाएंगे. वैसे इस कोर्स को करने से पहले ये जानना जरूरी है की वेब डिज़ाइनिंग क्या है, वेब डिज़ाइनर कैसे बनते हैं, Web Designing के लिए कौन सा कोर्स करें?

वेब डिज़ाइनिंग क्या है? What is Web Designing?

आपने इन्टरनेट पर वेबसाइट तो देखी ही होगी. उन वेबसाइट की डिज़ाइन को भी देखा होगा. देखने में काफी अच्छी लगती है. इन वेबसाइट को बनाना और इन्हें डिज़ाइन करना ही वेब डिज़ाइनिंग कहलाता है. इसमें काफी सारे काम होते हैं जिन्हें एक वेब डिज़ाइनर को करना पड़ता है. इसमें Web Page, Layout, Content Production और Graphic Designing जैसी चीजें भी करना पड़ती है. कुल मिलकर अगर आपको वेब डिज़ाइनर बनना है तो आपको Technicalऔर Creative दोनों ही होना पड़ता है तब जाकर आप एक अच्छे वेब डिज़ाइनर बन पाओगे.

वेब डिज़ाइनिंग में क्या काम होता है

वेब डिज़ाइनिंग का मतलब है वेबसाइट बनाना. अब वेबसाइट बनाने के लिए जितने काम जरूरी होते हैं वो सब वेब डिज़ाइनिंग के अंतर्गत आते हैं. अगर आप इस फील्ड में आना चाहते हैं तो आपको वेब डिज़ाइनिंग का हर काम सीखने के लिए तैयार रहना चाहिए. वेब डिज़ाइनिंग के अंतर्गत निम्न काम आते हैं.

ग्राफिक डिज़ाइनिंग

ग्राफिक डिज़ाइनिंग सुनने में आपको वेब डिज़ाइनिंग से अलग लग रहा है लेकिन अगर आप वेब डिज़ाइनिंग सीखना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको ग्राफिक डिज़ाइनिंग आना चाहिए. अगर ये नहीं आएगा तो आप कैसे किसी वेबसाइट को एक अच्छा आकार दे पाएंगे. एक वेबसाइट को बनाने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होते हैं उसके ग्राफिक्स यानि जो वेबसाइट आप बनाना चाह रहे हैं उसे आप कैसे कम्प्युटर पर दिखाएंगे यही ग्राफिक डिज़ाइनिंग है. इसके लिए आपको कुछ प्रमुख Software जैसे Adobe Photoshop, illustrator, coral draw के बारे में अच्छी समझ होना चाहिए. वेबसाइट डिज़ाइनिंग में आपके सबसे ज्यादा काम यहीं आने वाले हैं.

वेबपेज का निर्माण

आपने किसी किताब या मैगजीन का पेज तो देखा ही होगा. ठीक इसी तरह हर वेबसाइट के पेज होते हैं. जो दिखें में तो एक जैसे होते हैं लेकिन सभी पर अलग-अलग जानकारी होती है. वेबसाइट डिज़ाइनिंग में वेब पेज को बनान और उसे डिज़ाइन करना पड़ता है. इसके लिए आपका Technicalऔर Creative ज्ञान काम में आता है. किसी भी वेबसाइट का वेबपेज उस वेबसाइट की बुनियाद होती है क्योंकि हर वेबसाइट में सारे वेबपेज एक जैसे ही दिखते हैं. अगर एक वेबपेज बन गया तो फिर समझो आधा काम हो गया.

वेबसाइट का निर्माण

वेबसाइट के निर्माण में ऊपर बताई गई सारी बाते तो आती ही हैं साथ ही ये भी आता है की एक फास्ट और रिस्पोंसिव वेबसाइट कैसे बनाई जाए. एक वेब डिज़ाइनर का काम होता है की जब भी कोई उसकी वेबसाइट को खोले तो उस पर अच्छा प्रभाव पड़े और वो उसकी वेबसाइट को याद रखे. इसके लिए वेब डिज़ाइनर को वेबसाइट के रंगों, लेआउट और विजेट का ध्यान रखना पड़ता है.

वेबसाइट को डिज़ाइन करना

वेबसाइट को डिज़ाइन करने का ये मतलब नहीं है की कुछ ग्राफिक्स बना कर वेबसाइट पर डाल दिये और काम हो गया. इसमें आपको ग्राफिक्स के साथ कोडिंग का ज्ञान भी होना चाहिए. एक वेबसाइट ऊपर से आपको ग्राफिक्स के रूप में दिखती है लेकिन उसके पीछे कोडिंग छिपी होती है. इस Coding का ज्ञान भी एक वेब डिज़ाइनर को होना चाहिए. अगर वेबसाइट में कोई दिक्कत आ जाती है तो इस कोडिंग के जरिये ही उसे ठीक किया जा सकता है.

वेबसाइट का मेंटेनेंस करना

एक वेब डिज़ाइनर का काम सिर्फ वेबसाइट बनाने पर खत्म नहीं हो जाता वेबसाइट बनाने के बाद उसे उसका मेंटेनेंस भी करना पड़ता है. अगर वेबसाइट में कोई दिक्कत आ जाती है तो उसे भी ठीक करना पड़ता है. Hosting, Domain और वेबसाइट की सुरक्षा के काम भी एक वेब डिज़ाइनर को ही करना पड़ते हैं.

वेब डिज़ाइनर कैसे बनें? How to Become a Web Designer?

वेब डिज़ाइनर बनने के लिए आपके अंदर Technical knowledge और Creativity का होना बहुत जरूरी है. अगर आप सिर्फ क्रिएटिव हैं और आपको कोई टेक्निकल ज्ञान नहीं तो आप अपनी क्रिएटिविटी को सही रूप नहीं दे पाएंगे. ऐसे में दोनों चीजों का होना बहुत जरूरी है. अब अगर ये दोनों चीज आपके अंदर हैं तो आप वेब डिज़ाइनर बनने के लिए कदम बढ़ा सकते हैं. Web Designer बनने के लिए जरूरी नहीं की आप किसी कॉलेज में जाए, बड़ी-बड़ी किताबें पड़ें. इसमें आपको सारी चीजें प्रैक्टिकल करनी होती है. वेब डिज़ाइनिंग सीखने की शुरुवात आप चाहे तो 8वी या 10 से कर सकते हैं.

– वेब डिज़ाइनर बनने के लिए सबसे पहले तो आपको Adobe Photoshop बहुत ही अच्छे से सीखना होगा. क्योंकि वेबसाइट के निर्माण में जितने भी ग्राफिक्स इस्तेमाल किए जाते हैं उन्हें adobe Photoshop या illustrator पर बनाया जाता है. इसलिए फॉटोशॉप को आप 8th या 10th क्लास में सीख सकते हैं. अगर आप शुरू से इसे सीखेंगे तो आपकी रुचि और भी गहरी होगी.

– Photoshop को सीखने के बाद आपको ध्यान देना चाहिए कुछ Foundation Language पर जिनका उपयोग वेबसाइट बनाने में किया जाता है. जैसे कुछ प्रमुख लेंगवेज़ HTML, CSS हैं. HTML एक ऐसी लेंगवेज़ है जिसका उपयोग वेब पेज को विकसित करने के लिए किया जाता है. वहीं CSS HTML में लिखे गए दस्तावेजों को प्रस्तुत करती है. इन दोनों लेंगवेज़ के बारे में सीखना बहुत ज्यादा जरूरी है.

– वेब डिज़ाइनिंग की शुरुवात कर रहे है तो Java script और jQuery को जरूर सीखें. ये दोनों प्रोग्रामिंग लेंगवेज़ है जो वेबसाइट बनाने में आपका काम आसान कर देती है. Java script एक बेसिक प्रोग्रामिंग लेंगवेज़ है और jQuery एक ऐसी लाइब्रेरी है जिसमें Java script के कई सारे जरूरी code बने बनाए हैं. इसके जरिये आपको सारे कोड याद रखने की जरूरत नहीं पड़ती.

– इन सभी चीजों के साथ आपको Web Designing Tool का उपयोग करना भी आना चाहिए. जैसे आप वेबसाइट या तो PHP पर बनाएँगे या फिर WordPress पर बनाएंगे तो आपको ये दोनों चीजें ही अच्छी तरह चलाना आना चाहिए. तभी जाकर तो आप एक वेबसाइट बना पाएंगे.

वेब डिज़ाइनर बनने के लिए क्या जरूरी है

वेब डिज़ाइनर बनने के लिए जरूरी नहीं की आप बहुत अच्छे से 12वी पास हो. इसमें आपके मार्क्स मेटर नहीं करते हैं. हाँ अगर आप इसमें आना चाहते हैं तो कम से कम 12वी तक पढ़ा होना जरूरी है. इसके साथ ही आपको अँग्रेजी की समझ होना चाहिए क्योंकि कम्प्युटर पर अधिकतर काम अँग्रेजी में ही होते हैं. इसमें आपके मार्क्स जरूरी नहीं होते हैं. इसमें जरूरी होती है आपकी रुचि क्योंकि ये एक क्रिएटिव फील्ड है. यहाँ पर आपको अपनी क्रिएटिविटी के दम पर ही पहचान मिलेगी.

वेब डिज़ाइनिंग के लिए कोर्स Web Designing Course Hindi

वेब डिज़ाइनिंग सीखने के लिए जरूरी नहीं की आप किसी कॉलेज में जाए या फिर किसी संस्थान में जाए. आप घर बैठे अपने कम्प्युटर और इन्टरनेट की मदद से वेब डिज़ाइनिंग के बेसिक सीख सकते हैं. लेकिन अगर आपको इसका अच्छा-खासा ज्ञान चाहिए और आपको एडवांस लेवल पर जाना है तो आप इसमें कोर्स कर सकते हैं.

– अगर आप इसे शौक के तौर पर सीखना चाहते हैं या फिर खुद की कोई वेबसाइट बनाना चाहते हैं तो सबसे बढ़िया आप Online Course लें या फिर Youtube के माध्यम से किसी चैनल से फ्री में सीखें. यूट्यूब पर आपको कई सारे Web Designing Free Tutorial मिल जाएंगे. अगर आपको ये जानकारी काम की न लगे तो फिर इनके पैड कोर्स की तरफ जाएँ.

– अगर आप इसमें डिप्लोमा या Certificate Course करना चाहते हैं तो आपको कोई संस्थान इसके लिए चुनना पड़ेगा. वैसे वेब डेवलपमेंट और वेब डिज़ाइनिंग के लिए कई सारे संस्थान हैं जो वेब डिज़ाइनिंग का कोर्स करवाते हैं. आप यहाँ जाकर एक्सपेर्ट गाइडेंस में वेब डिज़ाइनिंग सीख सकते हैं.

वेब डिज़ाइनिंग एक बेहतरीन करियर विकल्प है. इसमें आपको लोगों से ज्यादा प्रतियोगिता भी नहीं करनी पड़ती है क्योंकि इस क्षेत्र में ज्यादा अच्छा काम करने वाले कम लोग है. अगर आपको अच्छा काम आता है और आप क्रिएटिव हैं तो आपको आपकी उम्मीद से भी ज्यादा पैसा मिलता है.

Free Logo Design : फ्री में लोगो कैसे बनाएं, Online Logo Maker Website कौन सी है

कैसे बने एक अच्छे ग्राफ़िक डिज़ाइनर

Graphic Card क्या है, ग्राफिक कार्ड कम्प्युटर में कैसे लगाते हैं?

Online Work 10 से 20 हजार रुपये महीना कैसे कमाएं

Business Promotion कैसे करे – कैसे बनाएं अपने ब्रांड प्रोडक्ट कंपनी की तस्वीर

error: Content is protected !!