Bank Loan लेना इतना नहीं है आसान, बैंक रखता है इन बातों का ध्यान

जीवन में अक्सर ऐसी परिस्थिति आती है, जब आपको पैसों की सख्त जरुरत होती है, ऐसे में आपके सामने कई सारे विकल्प मौजूद रहते हैं. उन सभी विकल्पों में सबसे अच्छा और बेहतर विकल्प होता हैं, बैंक से लोन लेकर अपनी जरुरत को पूरा किया जाए. लेकिन इन सब बातों में यह बात भी ध्यान रखने योग्य है कि, आखिर कोई Bank आपको किस शर्त पर और कितना Loan देगा.

साथ ही वह लोन देते समय किन-किन बातों का विशेष ध्यान रखेगा. वैसे तो हम सभी जानते हैं, कि सभी बैंक लेन-देन की व्यवस्था पर कार्य करते हैं. लेकिन हर व्यवस्था के कुछ मापदंड होते हैं, जिनके अनुरूप ही लेनदेन की प्रक्रिया होती हैं. तो आइए हम आपको इस विषय में जानकारी देते है कि, आपको लोन देते समय बैंक किन बातों (Loan Rules and Regulations in Hindi) का ध्यान रखती है.

इन बातों पर होता है विशेष ध्यान Bank Loan Eligibility Guidelines

बैंक लोन देते समय वैसे तो लोन लेने वाले व्यक्ति के विषय में पूरी जानकारी को देखता है. बैंक सबसे पहले लोन लेने वाले व्यक्ति की आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखता है. ऐसा करने के पीछे बैंक की धारणा यह जानने की होती है कि, क्या लोन लेने वाला व्यक्ति समय पर उसका भुगतान कर सकेगा? क्या उस व्यक्ति की आर्थिक स्थिति उतनी ठीक हैं? चाहे वह Home Loan हो, Personal Loan हो, Car loan  हो या फिर Gold loan, बैंक द्वारा लोन की राशि वापस मिलने की हर सम्भावना पर गौर किया जाता हैं.

इसके बाद ही किसी व्यक्ति को लोन दिया जाता हैं. अब हम आपको कुछ ऐसे विशेष बिंदु बताने जा रहे है, जो किसी व्यक्ति द्वारा लोन लिए जाने पर विशेष रूप से बैंकों द्वारा ध्यान में रखे जाते हैं.

लोन लौटाने की क्षमता Loan Repayment Ability

जैसा की हमने आपको बताया है कि, बैंक द्वारा लोन देने से पहले सबसे पहले अगर किसी बात पर ध्यान दिया जाता है, तो वह होता है लोन लौटाने की क्षमता. दरअसल बैंक द्वारा यह निश्चिन्त किया जाता है कि, उससे लिया गया लोन उसे वापस मिलेगा या नहीं. इसमें भी बैंक द्वारा कुछ निर्देशों का पालन किया जाता हैं.

बैंक द्वारा उतनी ही राशि लोन के रूप में दी जाती हैं, जितनी लोन धारक द्वारा लौटाने की क्षमता दिखाई देती हैं. इसी के साथ बैंक द्वारा लोन लेने वाले Account Holder के Monthly Salary का भी ध्यान रखा जाता है. इसके अनुसार बैंक किसी भी व्यक्ति के मासिक वेतन की आधी राशि यानि 50% की EMI की भुगतान राशि को ध्यान में रखते हुए ही लोन देता हैं.

उदहारण के लिए अगर आपकी Monthly Salary 50 हजार रूपए है तो, ऐसे में बैंक आपके लोन की EMI को 25 हजार रूपए के आसपास ही रखेगा और उसी के अनुरूप आपको लोन मिलेगा. ऐसा करने के पीछे बैंक द्वारा यह भी ध्यान रखा जाता है कि, कही आपके द्वारा कमाई जा रही पूरी राशि आपके लोन की EMI में न चली जाए. क्योकि आपको अपने घर और अपनी जीविका को चलाने के लिए भी रुपयों की आवश्यकता होगी.

अब आप बैंक द्वारा लोन लिए जाने की पहली शर्त को समझ गए होंगे. अब हम बात करेंगे बैंक द्वारा लोन दिए जाने की दूसरी शर्त के विषय में.

आय की स्थिरता Income status

बैंक द्वारा लोन दिए जाने पर जिस दूसरी बात का विशेष ध्यान रखा जाता है, वो है आय की स्थिरता. दरअसल बैंक किसी बिजनेस करने वाले व्यक्ति या सेल्फ कार्य करने वाले व्यक्ति की अपेक्षा Salaried व्यक्ति को आसानी से लोन दे देता हैं.

साथ ही वेतनभोगी व्यक्ति की interest Rate भी अन्य की तुलना में काफी कम होती हैं. इसके पीछे का कारण बैंक को आपकी स्थिर आय की जानकारी का होना है. आपकी स्थिर आय होने से बैंक को यह पता रहता है कि आप हर महीने अपने लोन की किश्त को समय पर दे सकते हैं. वहीं अगर आपकी सरकारी नौकरी है या फिर आप किसी बड़ी और नामी कम्पनी में कार्यरत है तो, भी आपको लोन आसानी से प्राप्त हो जाता हैं.

लेकिन इसी के विपरीत आप अगर स्वयं का Business करते है तो, बैंक से आपको लोन मिलने में काफी तकलीफ आती हैं. इसके पीछे बैंक की यह धारणा होती है कि, आपके बिजनेस में आपको मिलने वाली आय स्थिर नहीं हैं. कभी आपको अत्यधिक मुनाफा हो सकता है, तो कभी नुकसान.

ऐसे में आप बैंक द्वारा लिए गए लोन की किश्त समय पर आपके द्वारा भरी जाएगी या नहीं. ऐसी स्थिति में बैंक द्वारा लोन मिलने में काफी ज्यादा परेशानी आती हैं.

लोन चुकाने की इच्छा

किसी भी बैंक द्वारा लोन दिए जाने पर आपकी लोन चुकाने की क्षमता के साथ-साथ आपकी लोन चुकाने की इच्छा पर भी विशेष ध्यान दिया जाता हैं. लोन चुकाने की इच्छा से अभिप्राय आपके Credit Score पर हैं. बैंक द्वारा इस बात का भी ध्यान दिया जाता है कि पूर्व में कही आपके द्वारा कोई लोन का डिफाल्ट तो नहीं हैं.

आपने भूतकाल में लिए अपने लोन की किश्तों को सही समय पर भरा था. साथ ही क्या अपने समय पर अपने द्वारा लिए गए लोन की राशि का भुगतान पूर्ण रूप से कर दिया था? ऐसी स्थिति में सबसे अच्छा है कि, आप अपने क्रेडिट स्कोर को समय-समय पर चेक कर ले. Credit Score Check करने के लिए कई ऑनलाइन वेबसाईट भी मौजूद है, जिनके माध्यम से आप अपने क्रेडिट स्कोर को चेक कर सकते हैं, तथा कम क्रेडिट स्कोर होने पर आप उसे सुधार भी सकते हैं. ऐसा करने से आप बैंक द्वारा लोन न मिलने की परेशानी से भी आसानी से बच सकते हैं.

लोन के बदले में दी गई सेक्युरिटी

बैंक द्वारा लोन दिए जाने के लिए सबसे जरुरी शर्त है, लोन के बदले में दी गई Security. दरअसल ऊपर दिए गए तीनों बिन्दुओं के अनुसार बैंक आपको लोन देने के लिए तैयार तो हो जाता है,किन्तु इसके ऐवज में वह कुछ न कुछ सेक्युरिटी के तौर पर अपने पास कुछ न कुछ तो रखता हैं.

अब आप सोच रहे होंगे की ऊपर दिए गए बिन्दुओं में तो हमने आपको कहा था कि अगर ये तीनो बिंदु पर आप खरे उतरे तो आपको लोन आसानी से मील जाएगा. दरअसल लोन दो प्रकार के होते हैं, जिसमे एक होता है सुरक्षित लोन और दूसरा होता है असुरक्षित लोन. ऊपर दिए गए तीनों बिंदु Unsecured loans के अन्दर आते हैं. असुरक्षित लोन को हम पर्सनल लोन के रूप में जानते हैं. जिसमे आपकी लोन चुकाने की क्षमता, लोन चुकाने की इच्छा और आय की स्थिरता का ध्यान रखा जाता हैं.

इस प्रकार के लोन में भुगतान न करने पर बैंक द्वारा आपके किसी वस्तु को बेचा तो नहीं जा सकता, लेकिन आप पर क़ानूनी कार्यवाही करने के लिए बैंक स्वतन्त्र होता हैं. वहीं सुरक्षित लोन के अंतर्गत Gold Loan, Home Loan, Property Loan जैसे लोन आते हैं.

इन सभी लोन को देते समय बैंक आपसे कुछ न कुछ सेक्युरिटी के तौर पर गिरवी रखवाता हैं. और आपके द्वारा लोन का भुगतान न करने की स्थित में बैंक आपके द्वारा गिरवी रखे सिक्योरिटी को बैंच सकता हैं. इससे बैंक को अपने लोन की राशी मिल जाती हैं.

उपरोत्क लेख से आप इस बात को तो समझ गए होंगे कि बैंक द्वारा लोन देने में किन-किन विशेष बातों का ध्यान रखा जाता हैं. किन्तु कुछ लोन ऐसे भी हैं जिनमे बैंक द्वारा ऊपर दिए गए मापदंड न लगे.

इन लोन के अनतर्गत सरकार द्वारा दिए गए Mudra loan और Education के लिए दिए गए लोन आते हैं. लेकिन ज्यादातर लोन बैंको द्वारा ऊपर दिए गए मापदंडो को ध्यान में रखकर ही दिये जाए हैं.

आशा है कि आपको यह लेख जरुर पसंद आया होगा और हमारे द्वार दी गई जानकारी आपको जरुर समझ आई होगी. साथ ही इस लेख के माध्यम से आप लोन लेने के लिए जरुरी शर्तो को भी समझ सके होंगे.

Home Loan लेने के नियम, Apply for Home Loan Document और Eligibility

Indiabulls Dhani App से Loan लेने का तरीका जरूरी दस्तावेज़ और नियम?

Education Loan कैसे मिलता है, एजुकेशन लोन पर कितना ब्याज लगता है?

MUDRA Loan कैसे मिलता है, मुद्रा लोन के लिए जरूरी योग्यता?

देश के 7 यह बैंक देते है सबसे सस्ता लोन – Easy Loans Process With Best Interest Rates

Free CIBIL Credit Score पता करने का सबसे आसान तरीका

error: Content is protected !!