Network Marketing क्या है, नेटवर्क मार्केटिंग में सफल कैसे हो ?

किसी व्यक्ति के मुंह से आपने Network Marketing का नाम तो सुना ही होगा. इसके बाद उस व्यक्ति ने आपको नेटवर्क मार्केटिंग के बारे मे समझाया भी होगा. उसने बताया होगा की नेटवर्क मार्केटिंग क्या होती है? नेटवर्क मार्केटिंग के क्या फायदे हैं? (What are the benefits of network marketing?) नेटवर्क मार्केटिंग से आप किस तरह करोड़पति बन सकते हैं? इस तरह की कई बाते उस व्यक्ति ने आपको बताई होगी. कई लोग ऐसे भी होंगे जिनहोने नेटवर्क मार्केटिंग का नाम भी नहीं सुना होगा या वे उसके बारे में कुछ नहीं जानते होंगे. नेटवर्क मार्केटिंग का नाम सुनते ही दिमाग में कई सवाल घर करने लगते हैं. कई लोग सोचते हैं की Network Marketing एक बुरा Business है तो कई लोग इसमें लाखों-करोड़ों रुपये कमा रहे हैं. अब वो कमा रहे हैं तो आप भी कमा सकते हैं. लेकिन इसके लिए नेटवर्क मार्केटिंग के बारे में कुछ बेसिक बाते जानना जरूरी है.

नेटवर्क मार्केटिंग क्या है?

सबसे पहला सवाल ये आता है की नेटवर्क मार्केटिंग क्या है? (What is Network Marketing?) नेटवर्क मार्केटिंग क्या है ये इसके नाम में ही छुपा हुआ है. नेटवर्क मार्केटिंग एक तरह की मार्केटिंग है जिसमें आप खुद कुछ व्यक्तियों को जोड़ कर पैसे कमा सकते हैं. कई लोगों को ये फर्जी लगता है लेकिन कई सारी कंपनियाँ है जो आपको नेटवर्क मार्केटिंग के जरिये पैसे कमाने का मौका देती हैं. नेटवर्क मार्केटिंग में काम करने से पहले आपको ये जानना जरूरी है की नेटवर्क मार्केटिंग में असल में क्या होता है.

भारत में कई सारी कंपनियाँ हैं जिनके ढेर सारे प्रॉडक्ट हैं. इन प्रॉडक्ट को बेचने के लिए कुछ कंपनियाँ प्रचार-प्रसार का सहारा लेती है तो कुछ कंपनियाँ इन्हें सीधे लोगों के जरिये बिकवाती हैं. जो प्रॉडक्ट बिना किसी प्रचार-प्रसार के लोगों के जरिये बेचा जाता है उसी को नेटवर्क मार्केटिंग कहते हैं. अब इसमें ऐसा नहीं है की आपको हर बार ही कोई प्रॉडक्ट बेचना है या कंपनी के लिए किसी सेल्समेन की भूमिका निभानी है. इसे आप एक बिजनेस की तरह करते हैं.

इसमें कंपनी आपको कुछ प्रॉडक्ट देती है जिसे आपको दूसरे व्यक्ति को बेचना होता है और कंपनी की पॉलिसी के बारे में बताना होता है. जब आप किसी कंपनी के प्रॉडक्ट को बेचते हैं तो आपको उस पर कुछ तय कमीशन मिलता है. ठीक इसी तरह आपने जिस व्यक्ति को प्रॉडक्ट बेचा उस व्यक्ति को भी दूसरे व्यक्ति को प्रॉडक्ट बेचना (Sell product) होता है और उस व्यक्ति को कमीशन मिलता है. इस तरह से ये चैन आगे चलती है. आपने जिस व्यक्ति को प्रॉडक्ट बेचा या अपनी कंपनी के बारे में जिसे बताया उस व्यक्ति से मिला कमीशन तो आपका होगा ही आगे चलकर वो व्यक्ति जितने लोगों को जोड़ेगा उस पर भी आपको कमीशन (Commission) मिलेगा और उसके जोड़े लोग जितने लोगों को जोड़ेंगे उस पर भी आपको कमीशन मिलेगा. जब आपके ज्यादा लोग हो जाएंगे तो आपको कुछ भी करने की जरूरत नहीं पड़ेगी और आप बिना कुछ करे ही अच्छे-खासे पैसे कमा पाएंगे.

कंपनी जब आपको प्रॉडक्ट देती है तो आपसे कुछ निवेश भी करवाती है. हालांकि ये निवेश ज्यादा नहीं होता है लेकिन आपमें अगर उस प्रॉडक्ट को बेचने की क्षमता है तो आप जल्दी ही अपना मुनाफा निकाल पाएंगे और आगे चलकर ऐसा समय आएगा की आपको न तो प्रॉडक्ट खरीदना पड़ेंगे और न ही बेचना पड़ेंगे आप बिना कुछ करे ही पैसे कमाते रहेंगे. ये कमाई तब तक चलती रहेगी जब तक आपने जो नेटवर्क बनाया है वो काम करता रहेगा. इसमें ऐसा नहीं है की सिर्फ जिसने शुरू में नेटवर्क बनाया है वही कमाएगा बल्कि इसमें हर वो व्यक्ति जो आगे नेटवर्क बनाता है वो कमाता है. यानि की आपके बाद वाला और उसके बाद वाला हर व्यक्ति अपने-अपने लेवल पर कमाता है.

नेटवर्क मार्केटिंग में आप कम समय में ज्यादा पैसा कमा सकते हैं लेकिन इसके लिए आपमें लोगों को कन्वेन्स करने की क्षमता होनी चाहिए. अगर आप लोगों को ये भरोसा नहीं दिला पाते की आप जो प्रॉडक्ट और कंपनी की पॉलिसी के बारे में उन्हें बता रहे हैं वो फायदेमंद है या नहीं तो आप इस क्षेत्र में ज्यादा कमाल नहीं कर पाएंगे. इसमें अच्छा पैसा कमाने के लिए आपको काफी जोश और जुनून के साथ मेहनत करनी पड़ती है.

कंपनियाँ डाइरैक्ट सेलिंग क्यों करवाती हैं?

नेटवर्क मार्केटिंग में कंपनियाँ आपसे डाइरैक्ट सेलिंग(Direct selling) करवाती हैं. आपके दिमाग में सवाल आ रहा होगा की कंपनियाँ पैसा खर्च करके टीवी, रेडियो या अखबार में विज्ञापन देकर भी तो इसका प्रचार-प्रसार कर सकती है. उस से तो इनकी बिक्री और भी बढ़ सकती है. तो इसका जवाब ‘हाँ’ है. कंपनियाँ ऐसा कर सकती हैं लेकिन ऐसा करना उन्हें काफी महंगा पड़ता है. और प्रचार-प्रसार करने पर इस बात की कोई गारंटी नहीं होती की प्रॉडक्ट बिक ही जाएगा. प्रचार-प्रसार करने में पहले पैसा इन्वेस्ट (Money investment) करना पड़ता है और उसके बाद जाकर रिटर्न आते हैं जो निश्चित नहीं होते. इसलिए कंपनिया सीधे तौर पर प्रचार-प्रसार नहीं करती हैं.

कई कंपनियाँ डाइरैक्ट सेलिंग को तवज्जो देती हैं. इसका प्रमुख कारण ये है की इससे प्रॉडक्ट की कीमत कम हो जाती है क्योंकि उन्हें उस प्रॉडक्ट के प्रचार-प्रसार पर पैसा खर्च नहीं करना पड़ता है. इसके अलावा उन्हें जो मुनाफा कमाना होता है वो तो वे कमा ही लेते हैं और जो पैसा वे प्रचार-प्रसार में खर्च करने वाले थे उस पैसे को वे आप पर खर्च करते हैं. क्योंकि आप उनका विज्ञापन कर रहे हैं और उनके प्रॉडक्ट को बेच रहे हैं. इस तरीके से आप और अन्य लोग कंपनी से सीधे तौर पर जुड़े रहते हैं और प्रॉडक्ट का उपयोग करने के साथ-साथ मुनाफा भी कमाते रहते हैं. इसके अलावा कई कंपनियों का मानना होता है की डाइरैक्ट सेलिंग के माध्यम से ग्राहक का विश्वास ज्यादा बढ़ता है. अगर प्रॉडक्ट अच्छा होता है तो लोग उस प्रॉडक्ट की खुद पब्लिसिटी कर देते हैं. इसलिए ये कंपनियाँ डाइरैक्ट सेलिंग नेटवर्क मार्केटिंग के जरिये करवाती हैं. इससे उनके पैसे की भी बचत होती है और उन्हें इस बात पर भी दिमाग नहीं लगाना पड़ता की उनकी बिक्री होगी या नहीं क्योंकि नेटवर्क मार्केटिंग के जरिये वे सारा भार आप पर डाल देते हैं.

नेटवर्क मार्केटिंग को लोग बुरा क्यों कहते हैं?

जब कोई व्यक्ति Network Marketing का Plan समझा रहा होता है तो कुछ लोग उस व्यक्ति को ये समझाते हैं की नेटवर्क मार्केटिंग बुरी है. इसमें कुछ नहीं होता. कंपनी पैसा लेकर भाग जाती है. इस तरह की काफी सारी नकारात्मक बाते सामने आती है और वे आपको डरा देते हैं. इसके बाद आप नेटवर्क मार्केटिंग में आने के बारे में सोचना छोड़ देते हैं.

नेटवर्क मार्केटिंग के बारे में दो तरह के लोग गलत बाते करते हैं.

एक तो वे जो खुद नेटवर्क मार्केटिंग के जरिये अच्छा पैसा नहीं कमा पाये. कई लोग नेटवर्क मार्केटिंग के जरिये आज करोड़पति बन चुके हैं. ये एक ऐसा काम है जिसके जरिये आप कम समय में ज्यादा पैसे कमा सकते हैं. इसमें आप कितना पैसा कमाएंगे इस बारे में आप सोच भी नहीं पाएंगे. लेकिन कुछ लोग इसमें काम नहीं कर पाते. इसलिए वे नकारात्मक बाते करते हैं. वैसे उनकी बातों के बारे में सोचना सही भी है. नेटवर्क मार्केटिंग में आने से पहले आपको अपने आप से ये पूछ लेना चाहिए की क्या आप उस काम को कर पाएंगे जो नेटवर्क मार्केटिंग में होता है. क्या आप लोगों से वो प्रॉडक्ट खरीदवा कर उन्हें कंपनी का मेम्बर बना पाएंगे. अगर आप ऐसा कर सकते हैं तो आप नेटवर्क मार्केटिंग में जा सकते हैं. अगर आपमें ये कला नहीं है तो नेटवर्क मार्केटिंग में जाने की न सोचते तो ही बेहतर होगा.

नेटवर्क मार्केटिंग में दूसरी जो नकारात्मक बात होती है वो ये है की कंपनी आपका पैसा लेकर भाग जाती है. ये सच भी है और भारत में कई बार ऐसा हो चुका है. कई बार नेटवर्क मार्केटिंग के नाम पर लोगों से काफी पैसे लेकर कंपनियाँ भाग जाती हैं लेकिन ये कंपनियाँ नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियाँ हैं या नहीं इस बारे में आपने कभी सोचा. जो कंपनियाँ आपका पैसा लेकर भागती हैं वो आपको ये कहती है की आप इतने पैसे लगा दो सालभर में आप करोड़पति बन जाओगे. कैसे बनोगे ये नहीं बताते. बस आपको बड़े-बड़े सपने दिखाते हैं और आपके पैसे लेकर रफूचक्कर हो जाते हैं. इस तरह की कंपनियों के चक्कर में लोग बड़ी आसानी से फंस जाते हैं और अपना पैसा निवेश कर देते हैं. लेकिन ध्यान रहे ये कंपनियाँ नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियाँ नहीं होती हैं. इस तरह की कंपनियाँ पोंजी स्कीम दिखा कर आपसे पैसा लेकर भाग जाती हैं इनके जाल में न आए. नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियों में आपको ये अच्छी तरह समझाया जाता है की आप किस तरह पैसा कमा सकते हैं. इनका मुख्य काम अपने प्रॉडक्ट की सेल करवाना होता है न की आपसे बहुत सारा पैसा निवेश कराना. अगर कोई कंपनी आपसे बहुत सारा पैसा निवेश करवा रही है तो उस कंपनी से सावधान रहे.

अच्छी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी कैसे चुनें?

जब आपने नेटवर्क मार्केटिंग में जाने का मन बना ही लिया है तो अब आपको ये तय करना होगा की आपको कैसी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी में जाना है या फिर एक अच्छी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी को कैसे चुनना है. वैसे तो आप इन्टरनेट पर सर्च करेंगे तो आपको ढेर सारी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियाँ मिल जाएंगी. लेकिन इनमें से कितनी सही है और कितनी फर्जी है इस बात का पता लगाना थोड़ा मुश्किल काम है.

एक सही नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी का चुनाव करने के लिए पहले आपको कुछ बेसिक बातों पर ध्यान देना चाहिए. इसमें सबसे पहले आपने जिस कंपनी से जुडने का मन बनाया है सबसे पहले उसकी वेबसाइट पर जाएँ और उसे अच्छे से रिव्यू करें. इसमें देखें की कंपनी किस तरह के प्रॉडक्ट या सर्विस को बेच रही है. ये सर्विस और प्रॉडक्ट यूनिक होना चाहिए तभी आप इन्हें मार्केट में बेच पाएंगे. आपको ये भी देखना चाहिए की कंपनी कितने दिनों से बाजार में है. अगर कोई कंपनी कई सालों से नेटवर्क मार्केटिंग कर रही है तो इसका मतलब है की आप उस कंपनी पर भरोसा कर सकते हैं. इसके अलावा आपको ये भी पता लगाना चाहिए की कंपनी का मालिक कौन है. कंपनी का हैड क्वार्टर कहाँ पर है, वहाँ जाकर एक बार विजिट जरूर करें. इन सभी के अलावा कंपनी के पास किसी प्रॉडक्ट को बनाने या फिर उस बिजनेस को करने का सरकारी लाइसेन्स होना चाहिए जो भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त हो.

ये बेसिक बाते जानकार आप किसी कंपनी से नेटवर्क मार्केटिंग करने के लिए जुड़ सकते हैं. इसके बाद आपको कुछ बाते और जाननी हैं जिनसे आप कंपनी पर भरोसा कर सके. बाजार में कई तरह की नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियाँ हैं जो आपको बड़े-बड़े ख्वाब दिखती हैं. इनमें से कई का कहना होता है की आप सालभर में करोड़पति बन सकते हैं. इनका बिजनेस मॉडल होता तो है लेकिन वो ऐसा होता है जिससे आपको ये समझ नहीं आता की इस मॉडल से कंपनी का फायदा कैसे होगा. इसके अलावा इस तरह की कंपनियाँ आपसे ज्यादा मात्रा में पैसा निवेश करने के लिए कहती हैं. नेटवर्क मार्केटिंग में जुडने से पहले इस बात पर जरूर ध्यान दें की कंपनी कैसे बिजनेस मॉडल से पैसा कमा रही है. अगर आपको वो मॉडल समझ आ रहा है, आपको लग रहा है की कंपनी इस तरह सही में पैसा कमा रही है तो आप उसमें निवेश कर सकते हैं. इसके अलावा किसी भी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी में ज्यादा मात्रा में पैसा निवेश न करें. जो कंपनियाँ आपको बड़े-बड़े ख्वाब दिखाती हैं वो अक्सर भाग जाया करती हैं. नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियाँ आपसे सिर्फ प्रॉडक्ट बेचकर कमीशन लेने के लिए कहती हैं. यही इनका बिजनेस मॉडल है. अगर कोई आपको बड़े-बड़े ख्वाब दिखाता है तो उस कंपनी पर सोच-समझकर भरोसा करें.

नेटवर्क मार्केटिंग कैसे करें?

नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी को चुनने के बाद आप उससे जुड़ जाते हैं इसके बाद सवाल ये आता है की नेटवर्क मार्केटिंग कैसे करें? आपने तो पहले ये कभी नहीं किया है. दरअसल जब आप नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी से जुडते हैं तो आपको इस बात की भी ट्रेनिंग दी जाती है की आपको ये बिजनेस कैसे करना है? आप कैसे लोगों को उस प्रॉडक्ट को खरीदने के लिए विवश करें इस बात की ट्रेनिंग आपको दी जाती है. इस ट्रेनिंग को लेकर आप एक अच्छे नेटवर्क मार्केटिंग करने वाले बन सकते हैं. लेकिन दुविधा इसके बाद भी कई सारी है.

नेटवर्क मार्केटिंग ट्रेनिंग लेने के बाद आपको सफलता मिलेगी या नहीं ये पूरी तरह आप पर निर्भर करता है. कई सारे लोग हैं जो ट्रेनिंग लेने के बाद भी सफल नहीं हो पाते क्योंकि उनमें उस तरह के बिजनेस को करने की क्षमता नही होती है. नेटवर्क मार्केटिंग करने के लिए सबसे जरूरी बात ये होती है की आपके पास ऐसे लोगों का नेटवर्क हो जो आप पर भरोसा करते हो. इन लोगों के माध्यम से ही आप नेटवर्क मार्केटिंग में सफलता पा सकते हैं.

नेटवर्क मार्केटिंग शुरू करने पर आपको सबसे पहले उन लोगों की लिस्ट बनानी होगी जो आप पर भरोसा करते हैं और वे ऐसे लोग होना चाहिए जिन पर अन्य लोग भी भरोसा करते हैं. उन लोगों की लिस्ट बनाएँ और उन्हें एक-एक करके इस तरह के बिजनेस करने के लिए प्रोत्साहित करें. इसके अलावा आप जो प्रॉडक्ट और सर्विस उन्हें बेचना चाह रहे हैं उसके बारे में गहन अध्ययन करें. पता लगाएँ की बाजार में उस प्रॉडक्ट की लोगों को किस तरह जरूरत है और उसके बाद लोगों को प्रॉडक्ट और कंपनी के बारे में समझाएँ. उन्हें इससे होने वाले लाभ के बारे में बताएं. आपको उनके साथ अपनी ट्रेनिंग का पूरा इस्तेमाल करना है. एक बार आपने कुछ लोगों को अपने से जोड़ लिया तो आगे आपका काम चुटकियों में चल पड़ेगा.

नेटवर्क कंपनी से जुडने के फायदे

नेटवर्क मार्केटिंग से जुडने के कई सारे फायदे हैं.

1) नेटवर्क मार्केटिंग एक ऐसा काम है जिसके लिए आपको अपनी नौकरी छोड़ने की जरूरत नहीं है. अगर आपको लगता है की आप वित्तीय तौर पर सक्षम नहीं है और एक और काम करना चाहते हैं जिससे अच्छी इनकम हो तो आप नेटवर्क मार्केटिंग को चुन सकते हैं. इसे आप सिर्फ पार्ट टाइम जॉब की तरह या पार्ट टाइम बिजनेस की तरह कर सकते हैं.

2) नेटवर्क मार्केटिंग की मदद से आप कब लखपति या करोड़पति बनेंगे इस बात की कोई निश्चितता नहीं है. हालांकि कई लोग अपने हुनर के दम पर आज लाखों करोड़ो रुपये कमा रहे हैं. ये एक ऐसा बिजनेस है जिससे आप कम समय में ज्यादा पैसे कमा सकते हैं. आपकी नौकरी से भी ज्यादा.

3) नेटवर्क मार्केटिंग में आप सफल हो या न हो आपको बिजनेस करने की कला आ जाती है. बिजनेस में जरूरी होता है की आप लोगों से किस तरह बात करते हैं, उन्हें किस तरह समझते हैं और उनसे किस तरह मिलते हैं. ये सभी बाते आप नेटवर्क मार्केटिंग के जरिये आसानी से सीख जाते हैं. इसके अलावा लोगों को कन्वेन्स करने का गुण भी आपमें आ जाता है.

4) नेटवर्क मार्केटिंग के जरिये आप कई लोगों से जुडते हैं. इससे आपका खुद का एक अच्छा नेटवर्क बनता है जिसे आप जैसे चाहे वैसे उपयोग कर सकते हैं. कभी आप आगे चलकर सोचे की मुझे कोई बिजनेस करना है तो आपके पास ढेर सारे लोग होंगे जो आप पर भरोसा करेंगे और आपके बिजनेस में आपको सपोर्ट करेंगे. यानि आप उस नेटवर्क के जरिये अपना खुद का बिजनेस भी खड़ा कर सकते हैं.

5) नेटवर्क मार्केटिंग के जरिये आप अपने उन सभी सपनों को पूरा कर सकते हैं जो आपने कभी देखे थे और वित्तीय समस्याओं के चलते वे पूरे नहीं हो पाये. आप नेटवर्क मार्केटिंग में सफल होकर एक अच्छी और लक्जरी लाइफ जी सकते हैं.

नेटवर्क मार्केटिंग में सफलता कैसे पाएं?

नेटवर्क मार्केटिंग में सफलता पाना कोई एक या दो दिन का काम नहीं है. इसमें आपको समय देना पड़ता है और धीरज भी रखना पड़ता है. नेटवर्क मार्केटिंग में आप सफल हो सकते हैं लेकिन इसके लिए आपको कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए.

1) नेटवर्क मार्केटिंग में सफल होने के लिए सबसे पहले एक अच्छी कंपनी का चुनाव करें. जब आप एक सही कंपनी चुनेंगे तब ही आपको अच्छा फायदा होगा. मान लीजिये आपने कोई फर्जी कंपनी चुन ली और आप काम करते गए और बाद में पैसे देने के समय वो कंपनी भाग गई तब आप क्या करेंगे. आप सफल होने की जगह नुकसान में पहुँच जाएंगे.

2) नेटवर्क मार्केटिंग में आप जिस प्रॉडक्ट या सर्विस को बेच रहे हैं उसके बारे में आपको अच्छी नॉलेज होनी चाहिए. जब आपको नॉलेज अच्छी होगी तो आप लोगों को अच्छी तरह से कन्वेन्स कर पाएंगे. आप लोगों को अच्छी तरह से उस प्रॉडक्ट और कंपनी के बारे में समझा पाएंगे.

3) आपको उस प्रॉडक्ट की जानकारी के अलावा मार्केट के रुझान का भी पता होना चाहिए. आपको इस बात का ज्ञान होना चाहिए कि किस समय किस तरह के प्रॉडक्ट को लोग पसंद करेंगे. यदि आप गर्मी में कोई ऐसा प्रॉडक्ट बेचते हैं जिसका सर्दी में काम है तो लोग क्यों उसे खरीदेंगे.

4) नेटवर्क मार्केटिंग में आप असफल होने के लिए तैयार रहे. ये बात आपको बहुत आगे तक लेकर जाएगी. अगर आप शुरू में ही ऐसा सोचते हैं कि मैं आज इतना बिजनेस कर लूँगा या इतने लोगों को जोड़ लूँगा तो ऐसा होना थोड़ा मुश्किल है और इस बात के चांस ज्यादा है कि आप असफल होंगे. कई बार ऐसा होता है कि आपके बहुत बार असफल होने के बाद आपसे कुछ लोग जुडते हैं. इसलिए शुरू के समय में धीरज रखें और असफल होने के लिए भी तैयार रहे.

5) नेटवर्क मार्केटिंग की कंपनी को जॉइन करने के बाद कंपनी ट्रेनिंग तो देती है लेकिन कई बार ये ट्रेनिंग आपकी रियल लाइफ में काम नहीं आती है. इसके लिए आप नेटवर्क मार्केटिंग पर गहन अध्ययन करें. इसके अलावा अपने ग्राहक के मिजाज को समझने के लिए बिजनेस पर आधारित किताबें पढ़ें, एक्सपर्ट के विडियो देखें. इनसे आपको इस बिजनेस को करने में काफी सहायता मिलेगी.

6) नेटवर्क मार्केटिंग में अच्छे पैसे कमाने के लिए सबसे जरूरी है अच्छी टीम का होना. नेटवर्क मार्केटिंग शुरू करने के दौर में आपको एक अच्छी टीम बनाने पर ध्यान देना चाहिए. आपको उन लोगों को ही अपने टीम में लेना चाहिए जो आगे चलकर और लोगों को जोड़ सकते हैं. अगर आपने कुछ ऐसे व्यक्तियों को जोड़ लिया जो आगे चलकर लोगों को नहीं जोड़ते हैं तो आपकी कमाई रुक जाएगी. और आपकी मेहनत किसी काम की नहीं रहेगी.

नेटवर्क मार्केटिंग एक अच्छा बिजनेस हो सकता है जिससे आप काफी सारे पैसे कमा सकते हैं. इसके लिए आपको मेहनत करने की जरूरत है. ये एक ऐसा बिजनेस है जिसमें आप कम पैसे लगाकर अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं.

फिल्मों की कमाई कैसे होती है How Bollywood Movies EARN MONEY

Top 5 Low Investment Business

कैसे होती है UPI Service Provider Company की कमाई

LIC की बीमा पॉलिसी (Insurance Policy) से आसानी से ले सकते हैं Loan, जानिए पूरी प्रक्रिया

Instant Personal Loan देने वाले 15 Best Mobile App

DMart इतना सफल क्यों है, डी मार्ट का Business Model क्या है?

error: Content is protected !!