प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधनयोजना क्या (PM- SYM) है, कैसे आवेदन करें तथा प्रीमियम की जानकारी

बुढ़ापे का सहारा होती है बुढ़ापे में मिलने वाली पेंशन. जो लोग सरकारी नौकरी (Government Job) वाले होते हैं उन्हें तो अच्छी-ख़ासी पेंशन हर महीने मिलती है लेकिन जो लोग मजदूर होते हैं, रिक्शा चलाने वाले होते हैं, ठेले पर सामान बेचने वाले होते हैं. उन्हें कोई पेंशन (Pension) नहीं मिलती है. सरकार ने इन्हें बुढ़ापे में पेंशन देने के लिए एक योजना लेकर आई है जिसका नाम है प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना(Pradhan Mantri Shram Yogi Mandhan). इस योजना के तहत आपको 60 साल की उम्र के बाद हर महीने 3 हजार रुपये पेंशन मिलेगी.

श्रम योगी मानधन पेंशन योजना-Pradhan Mantri Shram Yogi Mandhan

ये योजना केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई है. इसका मकसद गरीब और असंगठित मजदूरों को बुढ़ापे में आर्थिक सहायता प्रदान करवाना है. इस योजना के माध्यम से सरकार देशभर में रह रहे मजदूरों, ठेला चलाने वाले, सब्जी बेचने वाले, रेहड़ी लगाने वाले आदि गरीब लोगों को बुढ़ापे में पेंशन देगी. लेकिन इस पेंशन के लिए आपको पहले से पैसा जमा करना होगा. इस योजना के तहत आप हर महीने 3000 रुपये पेंशन के हकदार होंगे. लेकिन इसके लिए पहले से थोड़ा-थोड़ा इनवेस्टमेंट (Investment) आपको ही करना होगा. तब जाकर आप ही आप इसका लाभ उठा पाएंगे.

श्रम योगी मानधन योजना की पात्रता-Eligibility for Shram Yogi Maandhan Yojana

अगर कोई व्यक्ति इस योजना से जुड़ना चाहता है तो उसकी उम्र 18 से 40 साल तक होनी चाहिए. इसमें वे लोग ही जुड़ सकते हैं जो मजदूरी करते हैं या छोटा-मोटा व्यवसाय करते हैं. इनकी मासिक आय भी 15 हजार से ज्यादा नहीं होनी चाहिए. तभी आप इस योजना के लिए पत्र है. अगर आपकी इनकम 15 हजार से ज्यादा हैं तो आप इसका लाभ नहीं ले सकते. इस योजना के अंतर्गत जो व्यक्ति योजना में नामांकित होता है उसी को पेंशन मिलती है. इन सभी के अलावा योजना में भाग लेने वाले व्यक्ति का नाम EPF/NPS/ESIC में नहीं होना चाहिए.

श्रम योगी मानधन योजना के लिए जरूरी दस्तावेज़-Documents required for Shram Yogi Maandhan Yojana

इस योजना में आवेदन के लिए आय संबंधी कुछ नियम हैं जिनके अंतर्गत आपकी मासिक आय 15 हजार से कम होनी चाहिए. इसके लिए आपको अपना आय प्रमाण पत्र देना भी जरूरी है.

इस योजना के लिए आपका भारतीय होना जरूरी है. इसलिए आपके पास भारत में रहने का कोई निवास प्रमाण (Residence proof) पत्र होना भी जरूरी है.

आपका Bank Account होना जरूरी है क्योंकि हर बार आपके बैंक अकाउंट से इसके लिए पैसा कटता है.

इसके अलावा आपका आधार कार्ड इस योजना के लिए होना जरूरी है.

श्रम योगी मानधन योजना के लिए आवेदन कैसे करें?-How to apply for Shram Yogi Maandhan Yojana?

इस योजना में आवेदन करने का तरीका काफी आसान है. इसके लिए आपको ऑफलाइन ही आवेदन करना होगा. आवेदन करने के लिए आपको अपने नजदीकी सीएससी सेंटर पर जाना है और अपना पंजीकरण करवाना है. यहाँ पर जाने से पहले अपने सभी डॉकयुमेंट तैयार रखें और साथ लेकर जाएँ.

कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर आपको वहाँ मौजूद कर्मचारी से इस योजना में आवेदन करने के लिए कहना है. इसके बाद वो आपसे जरूरी Document मांगेंगे. इन डॉकयुमेंट के आधार पर और आपकी उम्र के आधार आपकी प्रीमियम तय होगी.

सभी प्रकार के दस्तावेज़ को जाँचने के बाद आपका इस योजना के लिए आवेदन किया जाएगा. इस प्रक्रिया में आवेदन करने के बाद कम्प्युटर द्वारा एक कोड जनरेट किया जाएगा तथा एक रसीद दी जाएगी. इस रसीद पर आपको साइन करने के बाद आपको पेंशन कार्ड (Pension card) जारी कर दिया जाएगा. इस कार्ड में एक यूनिक कोड रहेगा जिसे पेंशन कार्ड कहा जाएगा. इस पर लिखे नंबर के आधार पर आपको सारी जानकारी मिलती रहेगी.

श्रम योगी मानधन योजना की किश्त-Installment of Shram Yogi Maandhan Yojana

इस योजना के तहत पेंशन का लाभ उठाने के लिए आपको हर महीने किश्त देना पड़ती है जो काफी कम होती है. इसमें से जितना पैसा आप जमा करते हैं उतना ही पैसा सरकार द्वारा जमा किया जाता है. अगर आप इसमें आवेदन कर रहे हैं तो इस बात को जान लें की आपकी उम्र 18 साल से जितनी ज्यादा होगी आपको उतना ही ज्यादा प्रीमियम भरना होता है. इसमें आप 40 साल की उम्र तक आवेदन कर सकते हैं. आप चाहे 18 साल से प्रीमियम शुरू करें या फिर 40 साल से आपको 60 साल के होने तक इसका प्रीमियम भरना होता है. श्रम योगी मानधन पेंशन योजना में आपको निम्न तरह से किश्त देनी होती है.

– 18 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 55 रुपये देने होते हैं.

– 19 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 58 रुपये देने होते हैं.

– 20 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 61 रुपये देने होते हैं.

– 21 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 64 रुपये देने होते हैं.

– 22 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 68 रुपये देने होते हैं.

– 23 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 72 रुपये देने होते हैं.

– 24 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 76 रुपये देने होते हैं.

– 25 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 80 रुपये देने होते हैं.

– 26 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 85 रुपये देने होते हैं.

– 27 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 90 रुपये देने होते हैं.

– 28 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 95 रुपये देने होते हैं.

– 29 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 100 रुपये देने होते हैं.

– 30 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 105 रुपये देने होते हैं.

– 31 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 120 रुपये देने होते हैं.

– 33 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 130 रुपये देने होते हैं.

– 34 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 140 रुपये देने होते हैं.

– 35 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 150 रुपये देने होते हैं.

– 36 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 160 रुपये देने होते हैं.

– 37 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 170 रुपये देने होते हैं.

– 38 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 180 रुपये देने होते हैं.

– 39 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 190 रुपये देने होते हैं.

– 40 साल से Premium शुरू करने वालों को हर Month 200 रुपये देने होते हैं.

मृत्यु के बाद श्रम योगी मानधन योजना-Shram Yogi Maandhan Yojana after death

इस योजना के तहत आवेदन करने के बाद यदि 60 साल से पहले आवेदक की मृत्यु हो जाती है तो उसकी पत्नी इस योजना में आगे प्रीमियम जमा कर सकती है. इसके बाद 60 साल की उम्र पूरी होने पर उसकी पत्नी को 3000 रुपये मासिक पेंशन मिलेगी लेकिन पत्नी के बाद किसी को ये पेंशन नहीं मिल पाएगी. इसके अलावा 60 साल के प्रीमियम पूरे कर देने के बाद अगर आवेदक की मृत्यु हो जाती है तो उसकी पत्नी को उसकी आधी पेंशन मिलती है.

प्रीमियम बंद कर देने पर क्या होगा?-What will happen if the premium is discontinued?

अगर इस योजना के तहत कोई व्यक्ति प्रीमियम बंद कर देता है तो क्या उसका पेंशन अकाउंट बंद हो जाएगा. ये सवाल आपके दिमाग में आया होगा. अगर कोई व्यक्ति इस योजना के तहत भुगतान रोक देता है या उसे देरी हो जाती है तो वो ब्याज के साथ इसे जमा करके अकाउंट को आगे चला सकते हैं. इसके अलावा यदि कोई व्यक्ति 10 साल पहले इस योजना से बाहर निकालना चाहता है तो उसके द्वारा जमा की गई राशि उसके बचत खाते में दे दी जाती है. इसमें सरकार जो अंशदान देती है उसका लाभ उसे नहीं मिलेगा.

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना आपकी पेंशन के लिए एक बेहतरीन योजना है. आप चाहे तो 18 साल की उम्र से ही इसमें पैसे जमा करके अपनी पेंशन को फिक्स कर सकते हैं. इसमें आपको ज्यादा पैसे भी नहीं देना है. इसमें आपको मात्र 2 रुपये रोज देना है. इतना खर्च तो आप ऐसे ही रोजाना कर देते हैं. आपके इस छोटे से Investment के बदले सरकार आपको बुढ़ापे में वित्तीय सहायता (financial help) प्रदान करेगी जो आपके बुढ़ापे का सहारा बनेगी.

सीनियर सिटिज़न सेविंग स्कीम (SCSS) की पात्रता और फायदे?

National Sports Talent Search Scheme (NSTSS) क्या है इसके नियम तथा लाभ?

PMKVY Training : प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना क्या है, रोजगार ट्रेनिंग के लिए कैसे अप्लाई करें?

Money Saving Tips पैसे बचाने के लिए अपनाए ये नियम

PPF Account क्या होता है, इसके क्या फायदे हैं?

SIP क्या है, सिप में निवेश के फायदे, Investment का तरीका

जानिए ज्यादा पैसा कमाने के तरीके और सीक्रेट

error: Content is protected !!