USB Type C क्या होता है, इसके प्रकार और लाभ क्या हैं?

स्मार्टफोन के रिव्यू देखने पर आपको अक्सर बोला जाता है की इसमें type C USB cable का प्रयोग होता है. लेकिन USB type C क्या है? इसके क्या फायदे हैं? हमारे लिए ये कैसे फायदेमंद है? इन बातों को हम नहीं जानते हैं. आजकल लॉंच होने वाले सभी प्रकार के फोन में USB Type C आती है. वैसे इसका चला स्मार्टफोन में पिछले कुछ सालों से ही शुरू हुआ है ल्कें Computer और Laptop में इसका चलन काफी लंबे समय से है.

Type C USB data transfer करने की सबसे तेज Technology है. Type A और B USB को डिवाइस से कनैक्ट करते समय हमें उल्टे सीधे का ध्यान रखना होता था लेकिन टाइप सी यूएसबी इस उल्टे सीधे के लिए वरदान है. आप इसे कैसे भी उपयोग कर सकते है और इसमें डाटा ट्रांसफर की स्पीड भी काफी ज्यादा होती है.

USB क्या होती है?

USB का पूरा नाम है Universal Serial Bus. ये एक ऐसी तकनीक है जिसकी मदद से हम डाटा को एक डिवाइस से दूसरी डिवाइस में ट्रांसफर कर सकते हैं. Device को चार्ज कर सकते हैं. आमतौर पर सिर्फ इन्हीं कामों के लिए यूएसबी का प्रयोग किया जाता है. इसे शुरुवात में बनाने वाली कंपनी Intel, Microsoft, IBM, Compaq, Dec, Nortal और NEC है. वैसे यूएसबी का पहला स्टैंडर्ड भारत के अजय भट्ट ने बनाया था जो इंटेल कंपनी में थे.

USB के प्रकार

USB के अभी तक 3 प्रकार हुए हैं. USB Type A, B, C

USB Type A

इस तरह के USB पोर्ट flat होते है और बाकी Connector से थोड़े बड़े होते हैं. USB Type A को mouse, keyboard, pendrive आदि मेन इस्तेमाल किया जाता है. आपके पर्सनल कम्प्युटर में multiple type A पोर्ट का उपयोग किया जाता है. इसके अलावा दूसरे डिवाइस और Power adopter में Type A port का उपयोग डाटा ट्रांसफर और चार्जिंग के लिए किया जाता है.

USB Type B

इस तरह के USB का प्रयोग ज्यादातर Scanner, Printer या फिर हार्ड ड्राइव में किया जाता है. आजकल आप जो मोबाइल में मिनी यूएसबी देखते हैं वो भी USB Type B का ही एक उदाहरण है. इसका आकार चौकोर और देखने में थोड़ा बड़ा होता है.

USB Type C क्या है?

USB Type C दिखने में Type B की तरह ही होता है लेकिन इसका आकार थोड़ा सा छोटा होता है. USB type C द्वारा आप camera, एमपी3 प्लेयर और बाकी के छोटे डिवाइस को Computer से जोड़ सकते हैं. इसकी सबसे खास बात तो ये हैं की इसे दोनों तरफ से उपयोग किया जा सकता है. इस तरह के यूएसबी पोर्ट डिवाइस को multiple connectivity का विकल्प देते हैं. इन सभी के साथ-साथ ये डाटा ट्रांसफर भी काफी तेजी से करती है.

USB Ports की ट्रांसफर स्पीड

आपको यूएसबी के प्रकार से ये तो पता चल ही गया होगा की किस तरह की यूएसबी कैसी स्पीड पर डाटा ट्रांसफर करती है. जो USB port सबसे लेटेस्ट है वो सबसे ज्यादा स्पीड से डाटा ट्रांसफर करेगा. आज के जमाने में ये सबसे जरूरी है की Data Transfer की स्पीड अच्छी हो. यहाँ हम आपको कुछ खास यूएसबी और उनकी स्पीड के बारे में जानकारी दे रहे हैं.

USB1.X

ये एक तरह का External Bus Standard है. इसमें 12 Mbps की Speed से डाटा ट्रांसफर होता है और ये करीब 127 पेरिफेरल डिवाइस को सपोर्ट करने में सक्षम होता है.

USB 2.0

इसमें डाटा ट्रांसफर की स्पीड करीब 480 एमबीपीएस तक की होती है और इसे हाई स्पीड यूएसबी भी कहा जाता हाई. इसका उपयोग सबसे पहले साल 2001 में किया गया था.

इस तरह की यूएसबी पोर्ट में ट्रांसफर की स्पीड 5जीबीपीएस तक की होती है. इसमें पिछली यूएसबी की तुलना में बेहतर प्रदर्शन और अच्छी स्पीड मिलती है.

USB 3.0

इस तरह की यूएसबी में आपको 10 जीबीपीएस तक की ट्रांसफर स्पीड मिल जाती है. इन्हें सुपर स्पीड + यूएसबी भी कहा जाता है. इसे साल 2013 में लॉंच किया गया था.

USB 3.2

यूएसबी 3.2 स्पीड के मामले में सबसे आगे है. इसकी डाटा ट्रांसफर स्पीड 20 जीबीपीएस तक की है. अगर किसी के फोन में ये है तो वो आसानी से कम्प्युटर या लैपटाप में डाटा ट्रांसफर कर सकता है. इस तरह की केबल केवल नई डिवाइस को ही सपोर्ट करती है क्योंकि नई डिवाइस में उनके लिए पोर्ट दिया जाता है.

USB Type C के क्या फायदे हैं?

यूएसबी टाइप सी एक तरह से तेज गति से डाटा ट्रांसफर करने के लिए बनाई गई है. आज के समय में हर कोई चाहता है की उसका काम जल्दी से जल्दी हो जाए और उसे ज्यादा इंतज़ार न करना पड़े. यूएसबी टाइप सी अपने साथ कई सारी खूबिया लिए हुए है.

– USB type C की सबसे पहली खूबी यही है की इसमें आप तेज गति के साथ डाटा ट्रांसफर कर सकते हैं. Type C का उपयोग करने के लिए आपके पास Type C USB Port स्मार्टफोन होना चाहिए तभी आप इसका उपयोग कर पाएंगे.

– USB type C का अगला फायदा ये है की आप इसमें एक पोर्ट से ही कई सारे काम कर सकते हैं. आप एक ही पोर्ट से चार्जिंग कर सकते हैं, उसी से डाटा ट्रांसफर कर सकते हैं, उसी से म्यूजिक सुन सकते हैं. वैसे म्यूजिक सुनने के लिए आपके पास Type C audio jack वाला हैडफोन या इयरफोन होना चाहिए.

– USB type C में आपको ये देखना नहीं पड़ता की आप जो पोर्ट अपने फोन में लगा रहे हैं वो उल्टा है या सीधा है. आमतौर पर USB type B में आपको इस बात का खास ध्यान रखना पड़ता था. इसका सबसे ज्यादा फायदा आपको चार्जिंग और डाटा ट्रांसफर करते वक़्त मिलता है.

– पहले के और अब के स्मार्टफोन में फर्क फास्ट चार्जिंग का भी है. अब के स्मार्टफोन में Fast Charging आने का एक कारण USB type C port है. इस पोर्ट में 20 वॉल्ट तक पावर सप्लाई करने की क्षमता होती है. अगर दो फोन type c usb पोर्ट वाले हैं तो आप एक फोन से दूसरे फोन को चार्ज भी कर सकते हैं.

USB type C एक उन्नत Technique है जो आपको तेज गति से डाटा ट्रांसफर और फास्ट चार्जिंग देती है. लेकिन ये जरूरी नहीं की जिस फोन में type c usb हो उसमें फास्ट चार्जिंग हो. ये कंपनी द्वारा फोन में डाली गई तकनीक पर भी निर्भर करता है. और हाँ type C wale मोबाइल थोड़े महंगे भी होते हैं.

USB Debugging Mode क्या है, इसका इस्तेमाल कैसे करें?

Smartphone को Wireless Microphone कैसे बनाएँ?

Wireless Charging क्या है वायरलेस चार्जिंग के फायदे और नुकसान

HDMI Cable क्या है (एचडीएमआई) Cable के फायदे

Yubico Key क्या है, इसे कैसे सेट करें और यूबिको की का क्या फायदा है?

error: Content is protected !!