Processor क्या होते हैं, कम्प्युटर के लिए कौन सा प्रॉसेसर चुने ?

जब भी हम कम्प्युटर खरीदने जाते हैं तो कम्प्युटर बेचने वाला हमसे ढेर सारी बातें पूछता है. रेम कितनी चाहिए, प्रॉसेसर कौन सा चाहिए, हार्ड डिस्क कितनी चाहिए, स्क्रीन कितने इंच की चाहिए. जिस व्यक्ति को पता होता है वो तो सारी चीजें बता देता है लेकिन जिसे नहीं पता होता या फिर जो पहली बार कम्प्युटर लेने जा रहा है वो अक्सर इन सवालों से घबरा जाता है.

कम्प्युटर खरीदते समय हर चीज अपनी जगह पर महत्व रखती है लेकिन सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण ये है की आप कौन से प्रॉसेसर (Processor) का कम्प्युटर खरीद रहे हैं. कम्प्युटर में कई प्रॉसेसर (processor in computer) आते हैं जिनके बारे में जानना बेहद जरूरी होता है. अगर आपने आपकी जरूरत के हिसाब से प्रॉसेसर का चुनाव नहीं किया तो बाद में आपको दिक्कत होती है. इसलिए प्रॉसेसर के बारे में जाने और फिर उसे अपनी जरूरत के हिसाब से चुने.

प्रॉसेसर क्या होता है? (what is processor?)

प्रॉसेसर किसी भी कम्प्युटर का एक अहम हिस्सा होता है. जिस तरह हम सीपीयू को कम्प्युटर का मस्तिष्क बोलते हैं ठीक उसी तरह ये CPU का मस्तिष्क होता है. Processor silicon की बनी एक Chip होती है जिसमें लाखों सूक्ष्म छोटे Transistor होते हैं. इन ट्रांजिस्टरों के जरिये Computer का डाटा प्रोसैस होता है. 

कौन सी कंपनी बनाती है प्रॉसेसर (best company for processor)

कम्प्युटर की दुनिया में कुछ गिनी चुनी कंपनियाँ है जो प्रॉसेसर बनाती है. दुनियाभर की कंपनी के कम्प्युटर में बस इनके ही प्रॉसेसर इस्तेमाल होते हैं. Processor बनाने वाली दो Major Companies इंटेल (intel) और Advanced Micro Devices (AMD) है. अधिकतर कम्प्युटर में आपने इंटेल के ही प्रॉसेसर देखें होंगे. एएमडी के प्रॉसेसर काफी कम ही सुनने को मिलते हैं.

पुराने प्रॉसेसर (old processor name)

आज के जमाने में ढेर सारे प्रॉसेसर हमारे सामने हैं, कोई ड्यूयल कोर (dual core) है, कोई कोर2डुओ (core2duo) है, कोई कोर i7 (core i7) है. लेकिन इन सबके बारे में जानने से पहले आपको इनके पुराने वर्ज़न के बारे में भी जान लेना चाहिए. पहले के processor की Series 8086 से शुरू होकर 80286-80386 – 80486 और (pentiuam processor) तक गई है। इनमें से हर नई पीढ़ी का processor पिछली पीढ़ी की तुलना में ज्यादा Speed देने और ज्यादा Memory (रैम) इस्तेमाल करने में सक्षम है.

मल्टीकोर प्रॉसेसर (multicore processor)

कम्प्युटर में लगने वाली चिप जिसमें प्रॉसेसर लगे होते हैं अगर उसमें 1 से ज्यादा Processors फिट होते हैं तो उसे (Multicore processor) कहते हैं. यहाँ जितने ज्यादा Core होंगे आपका कम्प्युटर उतना ज्यादा तेजी से चलेगा. मतलब Computer में कोई भी काम या Program उतनी ही तेजी से काम करेगा.

कोर 2 डुओ और ड्यूल कोर क्या है? (core 2 duo and dual core processor)

ये दोनों ही प्रॉसेसर का एक प्रकार है. दोनों नाम में एक जैसे ही लगते हैं लेकिन दोनों में अंतर है. ड्यूअल Core Pentium से आगे का प्रॉसेसर है वहीं Core 2 Duo New Generation का processor है. Core 2 Duo, Dual Core की तुलना में काफी ज्यादा Speed से काम करता है और 40% तक कम Electricity खर्च करता है.

कोर i3, i5, i7, i9 क्या है? (what is core i3, core i5, core i7, core i9 processor?)

ये सभी इंटेल के Multicore Processor हैं जो अपनी Speed के लिए जाने पहचाने जाते हैं. बात इनमें सबसे तेज और ताकतवर की करें तो वो i9 हैं और इस श्रेणी का Weak Processor i3 है लेकिन ये कोर 2 डुओ या ड्यूअल कोर से काफी तेज है. इन सभी प्रॉसेसर कोर की बात करें तो i3 Processor में दो, i5 कोर प्रॉसेसर में 2 या 4, i7 कोर प्रॉसेसर में 4 या 6, i9 कोर प्रॉसेसर में 6 या 8 कोर होते हैं.

computer-processor-in-hindi

ये प्रॉसेसर और जिन कम्प्युटर में इन्हें उपयोग किया जाता है वे कीमत के मुयबले Core 2 Duo और Dual Core की तुलना में काफी महंगे होते हैं. पहले चलने वाले पेंटियम प्रॉसेसर के मुक़ाबले भी ये काफी ज्यादा तेज और महंगे हैं.

ऐटम प्रॉसेसर (atom processor)

इंटेल का ऐटम प्रॉसेसर (intel atom processor) एक ऐसा प्रॉसेसर है जो नोटबुक, टेबलेट और Smartphone के लिए विकसित किया गया है. अन्य प्रॉसेसर के मुक़ाबले ये काफी हल्का-फुल्का और कम वोल्टेज वाला प्रॉसेसर है. इसका इस्तेमाल रोबोटिक्स, मेडिकल और संचार से जुड़ी Machines में भी होता है. इसकी कीमत काफी कम होती है इसकी कीमत के अनुसार ही ये काम करता है. मतलब आप चाहे की ऐटम i9 या फिर ड्यूअल कोर की तरह काम करे तो ऐसा संभव नहीं है.

सेलेरॉन प्रॉसेसर (celeron processor)

आपने इन सभी प्रॉसेसर के साथ में सेलेरॉन प्रॉसेसर का नाम भी सुना होगा लेकिन अभी तक आप ये नहीं जान पाये होंगे की इसका उपयोग कहाँ पर किया जाता है. इसका उपयोग तब किया जाता है जब किसी व्यक्ति को सस्ते कम्प्युटर की जरूरत होती है. उसे कम्प्युटर से ज्यादा कोई काम नहीं करना होता है बस उसे उसकी कम कीमत से मतलब होता है तो ऐसे में सेलेरॉन प्रॉसेसर को लगा के दिया जा सकता है.

ये इंटेल का प्रॉसेसर है जो अन्य प्रॉसेसर के मुक़ाबले एक सस्ता प्रॉसेसर वर्जन है. ये कम कीमत का तो होता है लेकिन ये उतना अच्छा परफॉर्म नहीं करता जितना की दूसरे प्रॉसेसर परफॉर्म करते हैं. ये Pentium के कम capacity वाले Version के रूप में भी मिलता है. ये Desktop और Laptop दोनों के लिए आते हैं.

जियोन ,आइटेनियम प्रॉसेसर (intel xeon processor)

आमतौर पर सामान्य व्यक्ति इन प्रॉसेसर के बारे में नहीं जानता है. ये जियोन Itanium Processor आमतौर पर उन कम्प्युटर में उपयोग किए जाते हैं जिनमें बहुत ज्यादा Data processing की जाती है या जिन कम्प्युटर पर ज्यादा लोड रहता है जैसे की Server वाले कम्प्युटर होते हैं. ये प्रॉसेसर काफी महंगे आते हैं और आम कम्प्युटर में इनका प्रयोग नहीं किया जाता है. आम Computer में i9 ही बहुत ज्यादा हो जाता है. इन प्रॉसेसर का इस्तेमाल कंपनियों में इस्तेमाल होने वाले Servers, High end graphics processing computers, Web hosting companies, Data centers वगैरह में इनका इस्तेमाल ज्यादा होता है.

कौन सा प्रॉसेसर खरीदें? (best processor for computer)

मुझे कौन सा प्रॉसेसर खरीदना चाहिए? इस सवाल के जवाब से पहले आपको एक सवाल अपने आप से पूछना है की आपको कम्प्युटर किस काम के लिए चाहिए? क्योंकि जो आपका काम होगा आपको उसी के हिसाब से प्रॉसेसर चुनना है. यहाँ बताए गए उदाहरण में आप अपने हिसाब से तय कर सकते हैं की आपको कौन सा प्रॉसेसर खरीदना चाहिए.

– अगर आप कम्प्युटर का इस्तेमाल सिर्फ इंटरनेट चलाने के लिए, छोटे-मोटे गेम खेलने के लिए, कम्प्युटर के बेसिक्स सीखने के लिए या फिर टायपिंग सीखने के लिए करना चाहते हैं तो आप कोई भी single core Notebook ले सकते हैं या फिर Desktop computer जिसमें Atom, Celeron या Pentium Single Core Processor हो.

– अगर आप ऊपर बताए गए कामों के अलावा Microsoft ऑफिस का इस्तेमाल करना, गाने सुनना या देखना चाहते हैं साथ ही इंटरनेट पर काम करना चाहते हैं तो आप Dual Core या Core i3 processor वाला कंप्यूटर या लैपटाप खरीद सकते हैं.

– अगर आप ऑफिस ऐप्लिकेशंस, कंप्यूटर गेम्स, एचडी मूवीज, यू-ट्यूब विडियो वगैरह देखना है और ग्राफिक्स का थोड़ा बहुत काम जैसे फॉटोशॉप या कोरल पर काम करना है तो आप ड्युअल कोर, कोर 2 डुओ या कोर आई 5 प्रोसेसर वाला कंप्यूटर का इस्तेमाल कर सकते हैं.

– अगर आप काफी डीटेल में ग्राफिक्स का काम, Video Editing, 3डी डिज़ाइन, प्रोग्रामिंग आदि का काम करना चाहते हैं तो आपको Quad Core, कोर i5 या कोर आई 7 Processor का इस्तेमाल कर सकते हैं. आप कम्प्युटर में जितने हेवी सॉफ्टवेयर का उपयोग करेंगे आपको उतना ही Latest processor लेना पड़ेगा. i9 का प्रयोग भी आप इन्हीं कामों को करने के लिए ले सकते हैं. i7 के मुक़ाबले i9 में आपको अच्छी स्पीड मिलेगी.

क्या सिर्फ प्रॉसेसर से कम्प्युटर की स्पीड बढ़ जाएगी?

अगर आप सोचते हैं की प्रॉसेसर अच्छा लेने से आपके कम्प्युटर को अच्छी स्पीड मिलेगी. ये कुछ हद तक सही भी है और कुछ हद तक गलत भी है. ये दोनों इस कंडिशन पर निर्भर करते हैं की आप एक समय पर कम्प्युटर में कितने सॉफ्टवेयर उपयोग कर रहे हैं.

अगर आप कम्प्युटर में Heavy software जैसे एडोब आफ्टर इफैक्ट, 3d सॉफ्टवेयर या कोई विडियो Editing Software यूज करते हैं और कम रेम का प्रयोग करते हैं तो आपका कम्प्युटर हैंग हो जाएगा. आपको कम्प्युटर खरीदते वक़्त सिर्फ प्रॉसेसर का नहीं बल्कि रेम का ध्यान भी रखना है. आप जिनते ज्यादा सॉफ्टवेयर इस्तेमाल करना चाहते हैं आपको उसी हिसाब से रेम भी लगवानी होगी. नहीं तो सिर्फ प्रॉसेसर के i9 होने से कुछ नहीं होगा.

32 Bit और 64 Bit क्या होता है, दोनों में क्या अंतर होता है?

FAT और NTFS क्या है, दोनों में क्या अंतर है?

इन 3 तरीको से आप Laptop और PC की स्पीड का पता लगा सकते है

नया laptop खरीदने के बाद करे ये 6 काम

A Ya B Ke Bajay C Default Drive letter Kyu Hota hai

Online Windows 10 ISO File कैसे Download करें?

RAM और ROM क्या होते है, इनमे क्या अंतर है?

error: Content is protected !!